Aparna Yadav Biography in Hindi | अपर्णा यादव का जीवन परिचय

(अपर्णा यादव का जीवन परिचय, जीवनी, आयु, माता-पिता, संपत्ति, शिक्षा, Aparna Yadav Biography in Hindi, Wikipedia, Marriage, Husband, Family, Kids)

अपर्णा यादव (Aparna Yadav) उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री मुलायम सिंह यादव की बहू हैं। वह मुलायम के दूसरे बेटे प्रतीक यादव की पत्‍नी हैं। अपर्णा यादव उत्‍तर प्रदेश की राजनीति का भी हिस्‍सा हैं। अपर्णा यादव ने 2017 के उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में लखनऊ कैंट से चुनाव लड़ा था। इस चुनाव में अपर्णा को हार का सामना करना पड़ा था। आइए आज जानते हैं अपर्णा यादव का जीवन परिचय (Aparna Yadav Biography in Hindi)…

Aparna Yadav

Aparna Yadav Biography in Hindi – अपर्णा यादव की जीवनी

पूरा नामअपर्णा बिष्‍ट यादव
जन्‍मतिथि01 जनवरी 1990
आयु32 वर्ष
पिता का नामअरविंद सिंह बिष्‍ट
मां का नामअंबी बिष्‍ट
पति का नामप्रतीक यादव
संतानएक बेटी
पेशाराजनीति व समाज सेविका
पार्टीभारतीय जनता पार्टी
धर्महिंदू
शैक्षिक योग्‍यतापरास्‍नातक
नेटवर्थ14.81 करोड़ रुपए

Who is Aparna Yadav – कौन हैं अपर्णा यादव

अपर्णा यादव उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री व समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की छोटी बहू हैं। वह प्रतीक यादव (मुलायम सिंह यादव व साधना यादव के पुत्र) की पत्‍नी हैं। इसके साथ ही अपर्णा यादव समाज सेविका भी हैं। वह bAware नाम का एक संगठन चलाती हैं।

Aparna Yadav Birthdate and Mother Father – अपर्णा यादव का जन्‍म व माता-पिता

अपर्णा यादव का जन्‍म 1 जनवरी 1990 के दिन हुआ था। अपर्णा यादव के पिता का नाम अ‍रविंद सिंह बिष्‍ट व मां का नाम अंबी बिष्‍ट है। अरविंद सिंह बिष्‍ट पत्रकार रह चुके हैं। समाजवादी पार्टी के कार्यकाल में वह सूचना आयुक्‍त के पद पर भी रह चुके हैं। वहीं अपर्णा की मां अंबी बिष्‍ट नगर निगम की जोनल अधिकारी हैं।

Aparna Yadav Married Life – अपर्णा यादव का वैवाहिक जीवन

अपर्णा यादव की शादी साल 2011 में प्रतीक यादव (Prateek Yadav) से हुई थी। प्रतीक, मुलायम सिंह यादव की दूसरी पत्‍नी साधना यादव के पुत्र हैं। शादी से पहले अपर्णा और प्रतीक करीब आठ साल तक प्‍यार में रहे थे। अपर्णा यादव ने एक इंटरव्‍यू में बताया था कि वे आठ साल तक दोस्‍त रहे। इसलिए उन्‍हें हाईस्‍कूल स्‍वीटहर्ट्स कहा जा सकता है। अपर्णा और प्रतीक की एक पुत्री है जिसका नाम प्रथमा यादव है।

Aparna Yadav

Aparna Yadav Education – शिक्षा

अपर्णा यादव ने मैनचेस्‍टर यूनिवर्सिटी से परास्‍नातक की डिग्री (Aparna Yadav Educational Qualification) हासिल की है। इसके साथ उन्‍होंने भातखंडे संगीत विश्‍वविद्यालय से शास्‍त्रीय संगीत की भी शिक्षा ग्रहण की है। वह ठुमरी की कला में पारंगत हैं।

Aparna Yadav Career in Hindi – अपर्णा यादव का करियर

राजनीतिक सफर

अपर्णा यादव ने साल 2017 में राजनीति में कदम रखा। साल 2017 में हुए विधानसभा चुनाव (UP Election 2017) में वह समाजवादी पार्टी से लखनऊ कैंट की सीट से उम्‍मीदवार थीं। इस चुनाव में वह 33,796 वोटों के अंतर से रीता बहुगुणा जोशी द्वारा पराजित हुईं।

समाज सेवा

अपर्णा यादव bAware नाम का एक संगठन चलाती हैं। वह विशेष रूप से महिला सशक्तिकरण और महिलाओं के अधिकारों के लिए काम कर रही हैं। उन्‍होंने महिलाओं से जुड़े मुद्दों के प्रति महत्‍वपूर्ण योगदान दिए हैं।

नरेंद्र मोदी के अभियान की तारीफ

साल 2014 में अपर्णा यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्‍वच्‍छ भारत अभियान की खूब प्रशंसा की थी। इसके बाद अपर्णा यादव को खूब लाइमलाइट मिली।

Aparna Yadav

Aparna Yadav in BJP – अपर्णा यादव भाजपा में

अपर्णा यादव (Aparna Yadav Wikipedia in Hindi) भले ही उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में किसी भी सीट से उम्‍मीदवार नहीं थीं लेकिन इसके बावजूद भी वह भारतीय जनता पार्टी की जीत से गदगद हैं। बता दें कि हाल ही में अपर्णा यादव ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थामा था।  

FAQ’s

अपर्णा यादव कौन हैं?

अपर्णा यादव उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू हैं। वह प्रतीक यादव (मुलायम सिंह यादव व साधना यादव के पुत्र) की पत्‍नी हैं।

अपर्णा यादव के माता-पिता का नाम क्‍या है?

अपर्णा यादव के पिता का नाम अ‍रविंद सिंह बिष्‍ट व मां का नाम अंबी बिष्‍ट है।

अपर्णा यादव ने उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2017 में किस सीट से चुनाव लड़ा था?

साल 2017 में हुए यूपी विधानसभा चुनाव में अपर्णा ने लखनऊ कैंट की सीट से चुनाव लड़ा था। इस चुनाव में वह बीजेपी की रीता बहुगुणा जोशी से हार गई थीं।

Leave a Comment

उमरान मलिक ने डेब्यू मैच में ही रचा इतिहास, डाली सबसे तेज गेंद RCB का साथ देने आ रहा है ये ओपनर, 2021 में मचाई थी तबाही IPL 2023 में विराट कोहली फिर संभालेंगे कप्‍तानी? जीत पर नजर मेथी के फायदे और नुकसान तुलसी के फायदे और नुकसान | Tulsi Ke Fayde Aur Nuksan