…तो उत्‍तर प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू फिर लगेगा, योगी सरकार ने किया बड़ा फैसला

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू को लेकर शनिवार को एक बड़ा आदेश जारी किया गया। दरअसल सरकार की तरफ से यह साफ कर दिया गया है कि जिस शहर में भी 500 से ज्‍यादा एक्टिव केस होंगे वहां फिर से कोरोना कर्फ्यू लगाया जाएगा।

कोरोना कर्फ्यू

उत्‍तर प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू

बता दें कि हाल ही में यूपी के जिन जिलों में 600 से कम एक्टिव केस हो गए, वहां पर कोरोना कर्फ्यू को समाप्‍त कर दिया गया है। लेकिन लोगों की लापरवाही को देखते हुए सरकार ने फिर से कड़े कदम उठाने का संकेत दे दिया है।

यह भी पढ़ें : इतने रूपए में मिलेगी DRDO की कोरोना की दवा 2DG, कंपनी ने तय की कीमत

इसको लेकर उत्‍तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि किसी भी जिले में केस अगर 500 के पार जाते हैं तो वहां फिर से कोरोना कर्फ्यू लागू कर दिया जाएगा। बता दें कि पहले ये नियम 600 एक्टिव केस होने पर था, लेकिन अब इसको घटाकर 500 एक्टिव केस तक कर दिया गया है।

अपर मुख्‍य सचिव ने जानकारी देते हुए आगे कहा कि उत्‍तर प्रदेश में अब तक दो करोड़ 50 लाख वैक्सीन लगाई जा चुकी हैं। अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि उत्‍तर प्रदेश में अब तक पांच करोड़ 50 लाख से ज्यादा कोरोना टेस्ट किए जा चुके हैं।

बता दें कि यूपी में पिछले 24 घंटों में 294 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। वहीं 593 संक्रमितों को डिस्चार्ज किया गया है। प्रदेश में एक्टिव इंफेक्शन के 4957 केस अभी भी हैं। इनमें से 3350 संक्रमित होम आइसोलेशन में रह रहे हैं।

इसके साथ ही उत्‍तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों में कोरोना से 51 लोगों की मौत हुई है। प्रदेश में रिकवरी रेट 98 प्रतिशत से अधिक हो गया है। प्रदेश में पिछले 24 घण्टे में 2 लाख 73 हजार 426 सैम्पल की जांच की गई है। यूपी में साढ़े पांच करोड़ जांच की गई हैं, यह देश में सबसे ज्यादा है।

कोरोना पर नई गाइडलाइंस जारी

वहीं इसके साथ ही उत्‍तर प्रदेश सरकार ने कोरोना को लेकर नई गाइडलाइंस भी जारी कर दी हैं। यह नए नियम 21 जून से पूरे उत्‍तर प्रदेश में प्रभावी होंगे। 

Leave a Comment

ऐसे लोग बेहद संभलकर करें कलौंजी का सेवन, हो सकते हैं बड़े नुकसान ऐसे लोग भूलकर भी न करें मेथी का सेवन, हो सकते हैं बड़े नुकसान औषधीय गुणों का खजाना है तुलसी, इन बिमारियों में ऐसे करें सेवन कच्‍चा लहसुन इन बिमारियों का है रामबाण इलाज, ऐसे करें प्रयोग कौन हैं दीपिका पादुकोण की छोटी बहन? दीदी से ज्‍यादा है कमाई