Isudan Gadhavi Biography in Hindi | इशुदान गढ़वी का जीवन परिचय


इशुदान गढ़वी (Ishudan Gadhavi) को गुजरात राज्य में नेता और बतौर पत्रकार जाना जाता है। अपनी शिक्षा पत्रकारिता में पूरी करने के बाद उन्होंने पत्रकारिता में अपना करियर बनाया और अपनी कई न्यूज रिपोर्ट्स की वजह से जाने गये। इसुदान गढ़वी (Isudan Gadhavi) ने पत्रकारिता के साथ ही राजनीति में भी अपना हाथ आजमाया और उन्होंने साल 2021 में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की पार्टी आम आदमी पार्टी की सदस्यता ले ली।

Isudan Gadhavi Biography in Hindi

इशुदान गढ़वी को आम आदमी पार्टी का राष्ट्रीय संयुक्त महासचिव बनाया गया। वर्तमान में वे इस पद पर कार्यरत हैं और गुजरात में आम आदमी पार्टी के मजबूत चेहरे के तौर पर चुनाव प्रचार में अपनी भूमिका निभा रहे हैं। आइए जानते हैं इशुदान गढ़वी का जीवन परिचय (Isudan Gadhavi Biography in Hindi)…

इशुदान गढ़वी की जीवनी – Isudan Gadhavi Biography in Hindi 

नामइशुदान गढ़वी
जन्म10 जनवरी 1982
आयु 40 वर्ष
जन्म स्थानपिपलिया, जाम खम्भालिया, गुजरात
पिता का नामखेराजभाई गढ़वी
माता का नामज्ञात नहीं
वैवाहिक स्थितिविवाहित
पत्नी नामज्ञात नहीं
शैक्षिक योग्यतापत्रकारिता में स्नातक
राष्ट्रीयताभारतीय
धर्महिन्दू
व्यवसायपत्रकारिता और राजनीति
राजनैतिक दलआम आदमी पार्टी
पदराष्ट्रीय संयुक्त महासचिव आम आदमी पार्टी

इशुदान गढ़वी कौन हैं? – Who is Isudan Gadhavi Wikipedia in Hindi

इशुदान गढ़वी आम आदमी पार्टी गुजरात के नेता हैं और गुजरात चुनाव में वे आम आदमी पार्टी का प्रमुख चेहरा भी हैं। इशुदान गढ़वी राजनीति में आने से पहले पत्रकार और एडिटर के रूप में वीटीवी न्यूज में काम करते थे। इसुदान गढ़वी ने पत्रकार रहते हुए गुजरात में जंगलों की कटाई का मुद्दा उठाया।

इशुदान गढ़वी ने 14 जून 2021 को आम आदमी पार्टी की सदस्यता ली और राजनीति में अपने करियर की शुरुआत की। वे वर्तमान में आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयुक्त महासचिव के पद पर कार्यरत हैं। Also Read : Mallikarjun Kharge Biography in Hindi | मल्लिकार्जुन खड़गे का जीवन परिचय

इशुदान गढ़वी का जन्म और माता- पिता – Isudan Gadhavi Birth & Mother-Father

इशुदान गढ़वी का जन्म गुजरात राज्य के पिपलिया, जाम खम्भालिया में 10 जनवरी 1982 को हुआ था। उनके परिवार में उनके पिता खेराजभाई गढ़वी और उनकी माता हैं। इनका जन्म गुजरात के एक किसान परिवार में हुआ था।

इशुदान गढ़वी की शैक्षिक योग्यता – Isudan Gadhavi Education

इशुदान गढ़वी ने पत्रकारिता में स्नातक की शिक्षा गुजरात से प्राप्त की। जिसके बार उन्होंने स्नातकोत्तर की डिग्री गुजरात विद्यापीठ से जन-संचार एवं पत्रकरिता में प्राप्त की।

इशुदान गढ़वी का वैवाहिक जीवन – Isudan Gadhavi Married Life

इशुदान गढ़वी का विवाह हो चुका है।

इशुदान गढ़वी का पत्रकारिता में करियर – Ishudan Gadhavi Career as Journalist

इशुदान गढ़वी ने पत्रकारिता में एमए की डिग्री प्राप्त करने के बाद कुछ समय तक दूरदर्शन के साथ काम किया। इसके बाद उन्होंने वीटीवी गुजरात में पत्रकार और एडिटर के तौर पर कई वर्षों तक काम किया। इस दौरान उन्होंने गुजरात में चल रहे अवैध कटाई की खबरों को उजागर किया। जिससे यह मामला सरकार के सामने आया और कार्यवाही होने के बाद ये गुजरात राज्य में ये जाने – जाने लगे। इस दौरान उन्होंने करीब 150 घोटालों को उजागर किया।

इशुदान गढ़वी बहुत ही कम उम्र में चैनेल के हेड बन गये थे। इशुदान गढ़वी का शो महामंथन बहुत ही प्रसिद्ध हुआ करता था। 

इशुदान गढ़वी का राजनैतिक करियर – Isudan Gadhavi Political Career

इशुदान गढ़वी का राजनैतिक करियर ज्यादा बड़ा नहीं है। उन्होंने साल 2021 में आम आदमी पार्टी की सदस्यता लेकर राजनीति में अपने करियर की शुरुआत की। इशुदान गढ़वी ने 14 जून 2021 को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की उपस्थिति में आम आदमी पार्टी की सदस्यता ली।

गुजरात में आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री उम्‍मीदवार – Gujarat CM Candidate Of AAP

इसके बाद वे गुजरात में आम आदमी पार्टी का प्रमुख चेहरा बनकर उभरे। वे वर्तमान में आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयुक्त महासचिव हैं। इसके साथ ही वे गुजरात चुनाव में आम आदमी पार्टी का प्रमुख चेहरा हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की बात करें तो माना यह भी जा रहा है कि यदि आम आदमी पार्टी चुनाव जीत जाती है तो आम आदमी पार्टी उन्हें गुजरात का मुख्यमंत्री भी नियुक्त कर सकती है।

FAQ’s

इशुदान गढ़वी का जन्म कब हुआ?

10 जनवरी 1982

इशुदान गढ़वी के पिता का नाम क्या है?

खेराजभाई गढ़वी

इशुदान गढ़वी ने आम आदमी पार्टी की सदस्यता कब ली?

14 जून 2021 को

Leave a Comment

उमरान मलिक ने डेब्यू मैच में ही रचा इतिहास, डाली सबसे तेज गेंद RCB का साथ देने आ रहा है ये ओपनर, 2021 में मचाई थी तबाही IPL 2023 में विराट कोहली फिर संभालेंगे कप्‍तानी? जीत पर नजर मेथी के फायदे और नुकसान तुलसी के फायदे और नुकसान | Tulsi Ke Fayde Aur Nuksan