लता मंगेशकर का जीवन परिचय | Lata Mangeshkar Biography in Hindi

(लता मंगेशकर का जीवन परिचय, Lata Mangeshkar Biography in Hindi, Age, Mother-Father, Wiki, Networth, Education, First Song)

लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) भारत की सबसे प्रतिष्ठित पार्श्‍वगायिका हैं। उनके चाहने वाले उन्‍हें मां सरस्वती का अवतार मानते हैं। आज भारत के हर कोने में तो लता मंगेशकर को खूब सम्मान मिलता ही है इसके साथ ही विदेशों में भी उनका नाम विख्यात है। लता मंगेशकर को भारत के सबसे सर्वोच्‍च सम्‍मान भारत रत्न से सम्मानित किया जा चुका है। इसके साथ ही उन्हें पद्म भूषण, दादा साहेब फाल्के पुरस्कार, पद्म विभूषण सहित कई अन्य पुरस्कार भी मिल चुके हैं।

Lata Mangeshkar Biography in Hindi

आज हर गायक लता मंगेशकर को अपने भगवान की तरह पूजता है। लता मंगेशकर ने हजारों फिल्मी गीत गाये हैं। उन्होंने 36 से भी ज्यादा भाषाओं में गीत गाये हैं। लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) को सुर कोकिला भी कहा जाता है। आइए आज जानते हैं सुरों की देवी लता मंगेशकर का जीवन परिचय (Lata Mangeshkar Biography in Hindi)

Table of Contents

लता मंगेशकर का जीवन परिचय – Lata Mangeshkar Biography in Hindi

पूरा नामलता मंगेशकर
वास्‍तविक नामहेमा मंगेशकर
अन्‍य नामसुर कोकिला, सुरों की देवी
जन्‍म28 सितंबर 1929
निधन6 फरवरी 2022
आयु92 वर्ष
जन्‍मस्‍थानइंदौर
पिता का नामदीनानाथ मंगेशकर
मां का नामशेवंती मंगेशकर
भाईहृदयनाथ मंगेशकर
बहनों के नामउषा मंगेशकर, आशा भोसले, मीना खाड़ीकर
पति का नामअविवाहित
धर्महिंदू
पेशाप्‍लेबैक सिंगर और म्‍यूजिक डायरेक्‍टर
शैक्षिक योग्‍यतास्‍कूल ड्रॉप आउट
नेटवर्थकरीब 111 करोड़ रुपए

Lata Mangeshkar Birthdate and Mother-Father Names in Hindi – लता मंगेशकर का जन्‍म व माता-पिता

28 सितंबर 1929 के‍ दिन लता मंगेशकर का जन्म मध्यप्रदेश के इंदौर शहर में हुआ था। लता मंगेशकर मराठा परिवार से ताल्लुक रखती हैं। बचपन में लता मंगेशकर को हेमा नाम से बुलाया जाता था। लता मंगेशकर के पिता का नाम पंडित दीनानाथ मंगेशकर है। वह भी एक संगीतज्ञ थे। उनकी माता का नाम शेवंती मंगेशकर है। लता मंगेशकर की मां गुजराती थीं। शेवंती दीनानाथ मंगेशकर की दूसरी पत्नी थीं। वह दीनानाथ मंगेशकर की पहली पत्नी नर्मदा की सगी बहन थीं। नर्मदा मंगेशकर के निधन के बाद दीनानाथ मंगेशकर ने शेवंती से शादी कर ली थी।

हार्डीकर से बनीं मंगेशकर

लता मंगेशकर के पिता का सरनेम हार्डीकर हुआ करता था, जिसे बाद में उन्‍होंने बदलकर मंगेशकर कर लिया था। दरअसल दीनानाथ मंगेशकर गोवा में मंगेशी के रहने वाले थे। यही कारण था कि मंगेशी के आधार पर उन्‍होंने अपना नया सरनेम मंगेशकर कर लिया था।

दीपिका पादुकोण का जीवन परिचय | Deepika Padukone Biography in Hindi

Lata Mangeshkar Earlier Life in Hindi – लता मंगेशकर का शुरुआती जीवन

महज 5 साल की उम्र से ही लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) संगीत में रुचि रखने लगी थीं। एक इंटरव्‍यू में उन्होंने यह बताया था कि वह जब महज पांच साल की थीं, तब वह अपने गीत अपनी माँ को सुनाया करती थीं। साल 1942 में लता मंगेशकर के पिता का देहांत हो गया, जब उनके पिता की मृत्यु हुई, तब उनकी उम्र केवल 13 वर्ष थी।

Lata Mangeshkar Brother-Sisters Names in Hindi – लता मंगेशकर के भाई- बहन

लता मंगेशकर अपने भाई-बहनों में सबसे बड़ी थीं। इनके अलावा इनकी तीन बहनें मीना खाड़ीकर, आशा भोसले और उषा मंगेशकर हैं। वहीं लता मंगेशकर के एक भाई भी हैं जिनका नाम हृदयनाथ मंगेशकर है। लता मंगेशकर के साथ इनकी तीनों बहनें और भाई भी संगीत की दुनिया से ही ताल्‍लुक रखते हैं।

Lata Mangeshkar Biography in Hindi

Lata Mangeshkar Education in Hindi – शिक्षा

लता मंगेशकर अपने जीवनकाल में सिर्फ एक दिन के लिए स्‍कूल गई थीं। दरअसल पहले ही दिन जब लता स्‍कूल गईं तो वह अपनी बहन आशा को भी साथ ले गईं थीं, ल‍ेकिन उनकी टीचर ने आशा को क्‍लास में बैठने की अनुमति नहीं दी, जिस कारण वह फिर कभी स्‍कूल नहीं गईं।

लता मंगेशकर का करियर – Lata Mangeshkar Career in Hindi

Lata Mangeshkar Biography in Hindi (लता मंगेशकर का जीवन परिचय) उनके करियर की बात किए बिना अधूरा ही रह जाएगा। आइए यहां जानते हैं लता मंगेशकर का जीवन परिचय (Lata Mangeshkar Biography in Hindi) और करियर (Lata Mangeshkar Career in Hindi)

लता मंगेशकर का एक्टिंग करियर

साल 1942 में जब लता महज 13 साल की थीं, पिता की मृत्‍यु के बाद परिवार की पूरी जिम्‍मेदारी उनपर आ गई। नवयुग चित्रपट मूवी कंपनी के मालिक और मंगेशकर परिवार में काफी अच्‍छे संबंध थे। इन्‍हीं लोगों ने लता को उनका करियर अभिनय और गायिका के रूप में स्‍थापित करने में मदद की थी। वैसे तो लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) को अभिनय में कोई खास रूचि नहीं थी, लेकिन मजबूरियों के कारण उन्‍होंने कुछ हिंदी और मराठी फिल्‍मों में अभिनय भी किया। साल 1942 में मंगला गौर, 1943 में माझे बाल, 1944 में गजभाऊ, 1945 में बड़ी मां, 1946 में जीवन यात्रा जैसी कई फिल्‍मों में लता मंगेशकर ने छोटे-मोटे किरदार निभाए थे।

लता मंगेशकर का पहला गाना – Lata Mangeshkar First Song

साल 1942 में लता मंगेशकर ने अपना पहला गाना मराठी फिल्‍म ‘कीती हसाल’ के लिए गाया था। इस गाने के लिए उन्हें 25 रूपये मिले थे। लेकिन इस गाने को फाइनल कट के बाद फिल्‍म से हटा दिया गया था।

अनन्या पांडे का जीवन परिचय | Ananya Pandey Biography in Hindi

1949 में मिली पहचान

बचपन से ही गायिका बनने का सपना देखने वाली लता मंगेशकर को 1949 में आई फिल्म महल का गाना “आएगा आनेवाला” से पहचान मिली। एक पार्श्‍वगायिका के रूप में उनका पहला गाना 1942 में आया था। इसके बाद साल 1947 में बसंत जोगलेकर ने अपनी फिल्म ‘आपकी सेवा में’ लता मंगेशकर को गाने का मौका दिया, जिसके बाद उनकी आवाज़ को खूब सराहना मिली। उन्होंने साल 1949 में आई फिल्म ‘महल’ के गाने ‘आएगा आनेवाला’ से खूब नाम कमाया। यह गाना अभिनेत्री मधुबाला पर फिल्माया गया था। बड़े पर्दे पर यह फिल्म हिट साबित हुई थी।

आशा भोसले और लता मंगेशकर में हुई थी अनबन

पिता के निधन के बाद लता मंगेशकर पर ही परिवार का सारा बोझ आ गया। पिता की मौत के सात साल बाद धीरे-धीरे घर की स्थिति सुधर ही रही थी कि लता मंगेशकर की छोटी बहन आशा भोसले ने प्रेम विवाह के लिए अपने परिवार वालों से बगावत कर दी। आशा भोसले गणपत राव भोसले से शादी करना चाहती थीं। जिससे लता बहुत आहत हुईं और दोनों के बीच बातचीत बंद हो गई थी। इसके बाद साल 1949 में आशा ने गणपतराव भोसले से शादी कर ली थी।

लता मंगेशकर और मोहम्मद रफ़ी के बीच अनबन

एक समय में लता मंगेशकर और मोहम्मद रफ़ी में ऐसी अनबन हो गई थी कि दोनों ने काफी समय तक एक दूसरे से बात तक नहीं की। इसको लेकर दोनों काफी चर्चा में भी रहे। यह अनबन दोनों में रॉयल्टी को लेकर हुई थी। जिसकी वजह से करीब 3 साल दोनों ने एक दूसरे से बात नहीं की। दरअसल लता अपने गाए हुए गानों की रॉयल्टी चाहती थीं जिसमें मोहम्‍मद रफ़ी ने उनका साथ नहीं दिया। जिसकी वजह से दोनों के बीच बहस हो गई। वहीं इस पर मोहम्‍मद रफ़ी का कहना था कि सिंगर्स को जब पेमेंट मिल चुकी है तो रॉयल्टी का कोई मतलब नहीं था।

Lata Mangeshkar Biography in Hindi

लता मंगेशकर ने क्यों नहीं की शादी?

लता मंगेशकर अपने घर में सबसे बड़ी थीं। मात्र 13 साल की उम्र में ही उनके पिता का देहांत हो गया था। इसके बाद लता पर घर का सारा बोझ आ गया। अपनी बहनों और भाई से बड़े होने के नाते लता ने घर की ज़िम्‍मेदारी अपने कंधों पर उठा ली, जिसके लिए लता ने शादी न करने का फैसला लिया। लता ने एक इंटरव्‍यू में कहा था कि अगर वह चाहें भी तो वह शादी नहीं कर सकती थीं, क्योंकि उन पर उनके भाई-बहनों की ज़िम्मेदारी थी।

अब तक गाए 35 भाषाओँ में 30 हज़ार से भी ज्यादा गाने

लता मंगेशकर 35 भाषाओं में गाना गाने वाली पहली भारतीय महिला गायिका हैं। लता मंगेशकर ने अब तक 30 हज़ार से भी ज्यादा गाने गाये हैं। लता को बचपन से ही गाने का शौक था और वह महज पांच साल की उम्र से ही संगीत में बेहद रूचि रखती थीं।

एम मुखर्जी ने फिल्म में गाने के लिए किया था रिजेक्ट

लता मंगेशकर की मुलाकात जब गुलाम हैदर से हुई तो उन्होंने लता की आवाज़ सुनी जिसके बाद गुलाम हैदर को उनकी आवाज़ बेहद पसंद आई। उन्होंने लता के गाने को लेकर एम मुखर्जी से बात की और उनसे कहा कि वह अपनी फिल्म में लता मंगेशकर को एक बार गाने का मौका दें, लेकिन लता की आवाज़ पतली होने के कारण मुखर्जी को यह नहीं पसंद आई जिससे उन्होंने लता को फिल्म में गाना देने से मना कर दिया था।

लता मंगेशकर को मिला माँ सरस्वती का दर्जा

देश में लता मंगेशकर को उनके चाहने वालों ने सरस्वती माँ का दर्जा दिया हुआ है। हर गायक लता को माँ सरस्वती का रूप मानता है। अभिनेता राज कपूर लता के बहुत बड़े फैन थे। उन्हें लता का गाना इतना पसंद था कि वह अपनी हर फिल्म में लता का गाना चाहते थे। वह लता के गाने से इतना प्रभावित थे कि उन्होंने ही पहली बार लता मंगेशकर को माँ सरस्वती का दर्जा दिया था। इसके बाद सभी उन्हें माँ सरस्वती का रूप मानने लगे।

Lata Mangeshkar Awards List – लता मंगेशकर अवार्ड्स

अवार्ड्सवर्ष
भारत रत्‍न2001
आईफा लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड2000
पद्म विभूषण1999
दादा साहब फाल्‍के अवॉर्ड1989
पद्म भूषण1969
नेशनल फिल्‍म अवार्ड (बेस्‍ट फीमेल प्‍लेबैक सिंगर)1972 (परिचय)
1974 (कोरा कागज)
1990 (लेकिन…)
महाराष्‍ट्र रत्‍न2001
महाराष्‍ट्र भूषण1997
फिल्‍मफेयर पुरस्‍कार1959, 1963, 1966, 1970, 1993, 1994, 2004

इसके साथ ही लता मंगेशकर को कई और भी बड़े अवार्ड्स से सम्‍मानित किया जा चुका है।

लता जी के बारे में रोचक तथ्य – Lata Mangeshkar Biography in Hindi

  • लता मंगेशकर अपनी आवाज़ के लिए एक दिन में 10 से 15 हरी मिर्च खा जाती हैं।
  • वह एक मात्र ऐसी जीवित व्यक्तित्व हैं जिनके नाम के पुरस्‍कार दिए जाते हैं।
  • लता मंगेशकर हमेशा नंगे पांव गाना गाती हैं।
  • उन्होंने 30 हज़ार से भी अधिक गाने गाये हैं।
  • लता मंगेशकर की सुरीली आवाज के कारण विदेशों के रिसर्चर्स उनकी वोकल कॉर्ड पर रिसर्च करने की इच्‍छा जता चुके हैं।
  • उनकी पतली आवाज़ की वजह से उन्हें पहले रिजेक्ट किया गया था।
  • गाना गाने से पहले वह कुछ नहीं खाती थीं यही कारण था कि एक बार रिकॉर्डिंग के बीच में वह बेहोश हो गई थीं।

लता मंगेशकर का निधन – Lata Mangeshkar Death

भारत रत्‍न लता मंगेशकर का 6 फरवरी 2022 को सुबह 8 बजकर 12 मिनट पर निधन हो गया। लता मंगेशकर के निधन का कारण मल्‍टी ऑर्गन फेलियर बताया जा रहा है। वह बीते कई दिनों से मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में एडमिट थीं।

FAQ’s

Q : लता मंगेशकर का वास्‍तविक नाम क्‍या है?

Ans : लता मंगेशकर का वास्‍तविक नाम हेमा मंगेशकर है।

Q : लता मंगेशकर के पति का नाम क्‍या है?

Ans : लता मंगेशकर अविवाहित हैं।

Q : लता मंगेशकर की बहनों के नाम क्‍या हैं?

Ans : उषा मंगेशकर, आशा भोसले, मीना खाड़ीकर

Q : लता मंगेशकर का पहला गाना कौन सा है?

Ans : लता मंगेशकर ने अपना पहला गाना मराठी फिल्‍म ‘कीती हसाल’ के लिए गाया था, लेकिन फाइनल कट के बाद इस गाने को फिल्‍म से हटा दिया गया था।

Leave a Comment

उमरान मलिक ने डेब्यू मैच में ही रचा इतिहास, डाली सबसे तेज गेंद RCB का साथ देने आ रहा है ये ओपनर, 2021 में मचाई थी तबाही IPL 2023 में विराट कोहली फिर संभालेंगे कप्‍तानी? जीत पर नजर मेथी के फायदे और नुकसान तुलसी के फायदे और नुकसान | Tulsi Ke Fayde Aur Nuksan